News

Cyclone Mandous IMD alert heavy Rain 100 KMPH wind speed Bay of Bengal costal area Tamilnadu andhra pradesh puduchery – India Hindi News


ऐप पर पढ़ें

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा है कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना चक्रवाती तूफान ‘मैंडूस’ (Cyclone Mandous) आज आधी रात को आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी और श्रीहरिकोटा से गुजर सकता है। इस दौरान हवा की गति 85 से 100 किलोमीटर प्रतिघंटे हो सकती है। IMD ने इसके मद्देनजर तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के कई हिस्सों समेत पुडुचेरी में भारी बारिश की आशंका जताई है।

मौसम विभाग ने ताजा पूर्वानुमान में कहा है कि तूफान की वजह से तटीय राज्यों खासकर तमिलनाडु के तटीय छह जिलों, आंध्र प्रदेश के रॉयलसीमा, पुडुचेरी में भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। इसके अलावा तेलंगाना, कर्नाटक के कई हिस्सों में भी तेज हवाओं के साथ तेज बारिश हो सकती है।

IMD ने कहा है कि अगले तीन घंटों में दक्षिणी-पश्चिमी बंगाल की खाड़ी में 105 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं लेकिन अगले छह घंटे में इसकी रफ्तार कम होकर 85 से 100 किलोमीटर प्रतिघंटे हो सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक 10 दिसंबर यानी शनिवार की सुबह तक तूफान कमजोर पड़ सकता है और हवाएं 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती हैं। इस दौरान तटीय राज्यों में भारी नुकसान पहुंचने की आशंका भी जताई गई है।

IMD ने तूफान को देखते हुए इन इलाकों में रेड अलर्ट जारी किया है और मछुआरों को समंदर में नहीं जाने की सलाह दी है। चक्रवात के कुप्रभावों से निपटने के लिए तमिलनाडु सरकार ने NDRF और राज्य आपदा प्रबंधन बल (SDRF) के लगभग 400 कर्मियों वाली 12 टीमों को कावेरी डेल्टा क्षेत्र में नागापट्टिनम और तंजावुर, चेन्नई, इसके तीन पड़ोसी जिलों और कुड्डालोर सहित कुल 10 जिलों में तैनात किया है।

     

बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना कम दबाव का क्षेत्र 6 दिसंबर को गहरे दबाव में तब्दील हो गया था। बुधवार को यह चेन्नई से लगभग 750 किलोमीटर दूर स्थित था। आईएमडी की ओर से जारी ताजा बुलेटिन के अनुसार, चक्रवाती तूफान ‘मैंडूस’ कराईकल के दक्षिण पूर्व में लगभग 200 किलोमीटर दूर बंगाल की खाड़ी के दक्षिण पश्चिम में मौजूद है।

     

बुलेटिन के अनुसार, ” इसके पश्चिम-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने और 9 दिसंबर को आधी रात के आसपास 85से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की हवाओं के साथ पुडुचेरी तथा श्रीहरिकोटा के बीच उत्तरी तमिलनाडु, पुडुचेरी और आस-पास के आंध्र प्रदेश के दक्षिणी तट से गुजरने की संभावना है।”

     

पुडुचेरी, चेन्नई से करीब 160 किलोमीटर दूर है। तमिलनाडु सरकार ने भारी बारिश के पूर्वानुमान के मद्देनजर सभी एहतियाती कदम उठाए हैं और छह जिलों में स्कूकॉलेज बंद कर दिए हैं।



Source link